कपालभाति प्राणायाम – Kapalbhati Pranayam in Hindi – 7 Yoga Package

kapalbhati

– अन्य नाम –
कपाल उदय सांस, ललाट मस्तिष्क शोधन, कपालभाती, कपालभारती

– विवरण –
कपालभाती दो शब्दों से बना है – कपाल यानि मस्तिष्क/सिर और भाती यानि चमक। यह प्राणायाम  मुख्य रूप से मस्तिष्क और मस्तिष्क के तहत अंगों को अच्छी तरह से प्रभावित करता है।

– कैसे करें –
पद्मासन में बैठे |
पेट के निचले हिस्से से हल्का झटका अंदर की ओर दें और सांस नाक से बाहर फेंके | फिर पेट ढीला छोड़ दें | फिर हल्के झटके से सांस बाहर फेंके |
इस तरह से लयबद्ध तरीके से करिये |

– लाभ –
यह आपको स्फूर्तिदायक बनाता है, शरीर में गर्मी पैदा करता है | बीमारी और एलर्जी से बचाता है।

– सावधानी –
आम व्यक्ति इसे २०० बार कर सकते हैं। इस संख्या में वृद्धि करना उचित नहीं है।
दिल और फेफड़ों की बीमारी से पीड़ित मरीजों को विशेषज्ञ के मार्गदर्शन में ही यह अभ्यास करना चाहिए।
रक्त परिसंचरण/ब्लड प्रेशर से पीड़ित लोगों को बहुत सावधानी से प्रक्रिया को पूरा करना चाहिए। उन्हें भी विशेषज्ञ के मार्गदर्शन में ही यह अभ्यास करना चाहिए।

2 thoughts on “कपालभाति प्राणायाम – Kapalbhati Pranayam in Hindi – 7 Yoga Package

Leave a Reply